शुक्रवार, 23 जनवरी 2009

हमदर्द

दर्द को दर्द से न देखो,
दर्द को भी दर्द होता है,
दर्द को ज़रूरत है दोस्त की,
आखिर दोस्त ही दर्द में हमदर्द होता है.......................................

1 टिप्पणी: