गुरुवार, 23 अप्रैल 2009

सीधी सड़क

सोचते थे हर मोड पर आप का इंतेज़ार करेंगे॥
पर,
पर,
पर,
पर, पर,
पर, पर, पर, पर,
कम्भाकत सड़क ही सीधी निकली...

1 टिप्पणी: