शुक्रवार, 18 सितंबर 2009

हसी की खुराक -8

पागलखाने का डॉक्टर अपनी पत्नी को कहता है- पागलों के साथ रह-रहकर मैं आधा पागल तो हो ही गया हूं।

पत्नी- कभी कोई काम पूरा भी कर लिया करो।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें