सोमवार, 23 नवंबर 2009

आज का विचार

करोगे याद एक दिन इस प्यार के ज़माने को ,
चले जायेंगे जब हम कभी ना वापस आने को .
चलेगा महफ़िल मे जब ज़िक्र हमारा कोई ,
तो तुम भी तन्हाई धुढोगे आंसू बहने को .

3 टिप्‍पणियां: