रविवार, 17 जनवरी 2010

तलाक को फिर शादी मे बदलने की कोशिश - भाग 3


मेरे दोस्तों तलाक शब्द एसा है की हमारा समाज जिसे बड़ी ही अजीब सी नजरो से देखता है , चाहे वो तलाक सुदा लड़की हो या तलाक सुदा लड़का , हम कभी भी ये नहीं सोचते की २ साथी कसे अचानक ही इस मोड पर आ जाते है ,सबसे पहले तो वो कारन जिन के कारन ज्यादातर तलाक होते है
१) अविश्वास ,
२)असंतोष ,
३) अहंकार ,
४) बे पनाह आरजू,

५) आपसी सामंजस्य में कमी,
६) बिना सोचे समझे जल्दबाजी में लिया गया निर्णय ,
७) घर वालों की मर्जी बगैर विवाह ,

८) वैचारिक तालमेल की कमी होना,
९) नाजायज संभंध ,
१०) दोनों मे से किसी का अपनी शादी से पहले हुए प्यार को नहीं भुला पाना ,

रूठी महबूबा मनाने के लिए शेर नंबर -3


कोई आँखों आँखों से बात कर लेता है,
कोई आँखों आँखों में मुलाकात कर लेता है,
मुश्किल होता है जवाब देना,
जब कोई खामोश रहकर भी सवाल कर लेता है
Miss USorry

लड़की पटाने के 151 तरीके - तरीका नंबर 9

क्या बात है दोस्तों आप अब लड़की पटाने के गुरु बनते जा रहे हो , लेकिन कभी भी ये तरीका किसी भी लड़की के दिल से खेलने के लिए मत लगाना , जो तरीके मेआप को बता रहा हु वो सिर्फ आप के अंदर छिपी हुई मोहबत को लड़की के दिल तक पहुचने के लिए है , अब आप को लड़की पटाने के लिए हमेशा उस की मद्दद करने के लिए तैयार रहना होगा , जो भी लड़की की उस के मुसीबत के समय उस की मद्दद करता है , लड़की के दिल मे उस के लिए खाश जगह बन जाती है ,Best Friends

शुक्रवार, 15 जनवरी 2010

आज मेरे ब्लॉग के visitors की संख्या १ लाख को पर कर गई , बल्ले बल्ले , मकर सक्रांति पर ये तोहफा मुझे कबूल है दोस्तों , आज मै भी लख पति बन गया


बुधवार, 13 जनवरी 2010

मेरा तो जीने का तरीका बस एसा है

Cupid
अपनी तमन्ना पूरी की तो क्या की,
किसी की ज़रूरत बन के देखो.
दिल का धड़कना ज़िंदगी नहीं होती,
किसी के दिल में धड़क के देखो.





रेनू के लिए अमित की शायरी

Bouquet
ख्वाबों में ऐसे सज गई हो तुम,
यादों में जैसे सिमॅट गई हो तुम,
सो भी जाउ अगर तो क्या कहु
आँखों में इस तरह बस गये हो तुम.
Heart  Glasses

अमित की शायरी


एक हसरत पूरी होती नहीं,
कई और पैदा हो जाती हैं.
अपनों को पूरा अपना ना सके,
औरों पे दिल आ जाता है.


जब मै तनाव मे था उन दिनों की यादे - 2


ज़िंदगी भर साथ देने का वादा किया,
अकेला छोड़ कर चल दिए,
उन वादों और कसमों को खाक में मिला दिया,
और रिश्ता तोड़ के चल दिए.


शांत पंछी

एक फूल की कहानी



मुझे एसे ही खिलने दो ,
न मुझ को तोड़ो ,
जिन्दा रहने दो........

उड़ गया पंछी

मंगलवार, 12 जनवरी 2010

जब मै तनाव मे था - उन दिनों की कुछ यादे - 1

कुछ पल तो मेरी याद से चली जाओ
कुछ पल तो मै जी सकुगा
हार पल मरता हु कई कई मौत
कुछ पल तो तुम्हारी जुदाई का गम पी सकुगा

लड़की पटाने के 151 तरीके -तरीका नंबर 8

प्यार मे भूलना भूल जाओ दोस्तों , यदि आप को भूलने की बीमारी है तो उस का इलाज करवा लेना वर्ना प्यार करना भूल जाओ , अब आते है काम की बात पर मतलब लड़की पटाने के तरीके नंबर ८ पर

हमेशा अपनी दोस्त का जनम दिन कभी मत भूलना और हमेशा उस को जनम दिन की मुबारक जरूर देना

तलाक से शादी तक - भाग -2

दिव्या आप के लिए एक नया तराना जिसे आप अपनी पति को भेजे गे तो शायद आप के पति आप के दिल की बात सुन ले

अब तो आदत सी हो गयी है दर्द सहने की,

अपने ही ज़ख़्मो मे डूब कर रहने की,

खामोश तन्हाई मे अब दिल लगता है,

ना पुकारे कोई, निगाह उठाने से भी दिल डरता है…

तलाक को फिर शादी मे बदलने की कोशिश - भाग 1

आज अपनी होने वाली पत्नी के साथ उस की दोस्त से मिला , बातो ही बातो मे पाता चला की उस की दोस्त भी डॉक्टर है , मिलने के बाद महसूश हुआ की दिव्या बड़ी ही मिलन सार थी , उस का बेबी भी आछा था , पर मै उस से मिला नहीं ,
तलाक के बाद , वो अपनी जिन्दगी अपने बच्चे के साथ एक अजीब सी तन्हाई मे गुजार रही है , वो बातो मे बात करते करते अचानक ही आखो के किसी कोने मे तनहाई की तड़प का उभर आना , और बड़ी सफाई से उस तड़प को छीपा जाना , लगता है की ज़माने से मिले हुए दर्द को मेरी इस नै दोस्त ने अपने सीने मे ना जाने किस कोने मे छिपा कर , उस पर मुस्कराहट का lamination कर दिया है , एक सवाल ना जाने क्यों मेरे मान मे अब भी मेरे इस दोस्त के लिए बार बार आ रहा है , की क्या तलाक लेने के बाद क्या ये वापस उस ही को अपना जीवन साथी नहीं बना सकती , जिस के साथ दिव्या ने प्यार किया फिर शादी की , फिर अपने प्यार से प्यार का तोहफा यानि मातृत्व पाया , एस्सा क्या हुआ की दो प्यार करने वाले , एक दुसरे पर जान देने वाले अचानक ही इतने अजनबी हो गाये , क्या इन सब मे इन दोनों के vayvhaar का हाथ था , या दोनों की family का कोई हाथ था ,, मै तो चाहता हु की दिव्या फिर से अपनी खुशियो को पा ले , दिव्या आप अपने पति को शायद अभी भी इतना की प्यार करते हो जितना पहले , की जब करते थे , रेनू ने मुझे बताया था की आप के बेटे की शकल बिलकुल आप के पति पर है

लाख कोशिश करो हमे भुलाने की ,
हम तुम्हे याद तो आते तो होगे ,
वो प्यार के लम्हे तुम्हे याद तो आते होगे ,
हम जो रोकते आये अपने आसुओ के सैलाब को ,
वो तुम्हारी आखो से बहते तो होगे


दिव्या आप अपने पति को ये जरूर लिखना ,
शायद आप अपने पति को फिर से पा लो ,
मेरी शुभ कामनाए आप के साथ है

लड़की पटाने की १५१ तरीके - तरीका नंबर 8

प्यार वो बला है जो हैवान को इन्सान बना देती है , और आप तो पहले से ही इन्सान हो , लड़की पटाने के तरीके नंबर मे आप को जब भी किसी लड़की से मिलना है तो आप के चेरे पर एक प्यारी सी मुस्कान होनी चाहिये , मुस्कान प्यारी होनी चाहिये ना की रावण वाली ,एक मुस्कान सीधी दिल पर लगती हैI Love You

शनिवार, 9 जनवरी 2010

09-01-10 की हसी की खुराक

जानवरों की पार्टी में चूहा 4 पैग लगा चुका
बिल्ली बोली कि आज पार्टी नहीं होती ,
तो मैं तुझे खा जाती।
चूहा बोला कि चल यहां से चली जा ,
Kitty 5 नहीं तो दुनिया कहैगी कि पी कर लुगाई पीट दी

रूठी महबूबा को मानाने के 151 शेर - शेर नंबर 4

मोहब्बत मुझे थी तुझी से ..सनम .
यादों मे तेरी
I Love You यह दिल तडपता रहा ..
मौत भी मेरी चाहत को रोक नहीं सकी ॥
कब्र मे भी ये दिल धडकता रहा

लड़की पटाने के 151 तरीके - तरीका नंबर 7

In Loveप्यार करने के लिए आप को अपनी कुछ आदतों मे भी बदलाव लाना पड़ेगा , कुछ आदते सिर्फ प्यार करनेमे ही नहीं बल्कि हमारी सामाजिक मेल मिलाप की जरूरतों को भी पूरा करती है ,किसी भी लड़की को प्यार के लिए पटाने के लिए आप को जब भी उन से मिलना हो तो एक मुस्कुराते हुए चेहरे के साथ मिलना है , ये मुस्कराहट बनावटी नहीं होनी चाहिए , बनावटी मुस्कराहट आप का काम बनाने के बजाय बिगाड़ भी सकती है

गुरुवार, 7 जनवरी 2010

लड़की पटाने का 151 तरीके -तरीका नंबर ६

यदि आप किसी लड़की को पसंद करते है और उसे पाना कहते है तो उसे पटाने के लिए आप मे आत्म विश्वाश होना चाहिए और वो आत्म विश्वाश आप मे दिखना भी चाहिए इस के लियी आप हमेशा लडकियों से आँखों से आँखे मिला कर बाते करे ,Sand I Love You इस से लडकिया बहुत जल्दी पर्भावित (impress) होती है

रूठी महबूबा मानाने के 151 शेर - शेर नंबर 3


मस्त नज़रों से देख लेना था
अगर तमन्ना थी आज़माने की,
हम तो बेहोश यो ही हो जाते
क्या ज़रूरत थी मुस्कुराने की.

आज की हसी की खुराक भी ले लो भाई

शिक्षक (विद्यार्थी से)- प्यार व इश्क में क्या फर्क है?
विद्यार्थी (शिक्षक से)- प्यार वो है जो आप अपनी बेटी से करते हैं और इश्क वो है जो मैं आपकी बेटी से करता हूं।

आज मेरे ब्लॉग को 806 ने पढ़ा


दोस्तों आज से लगभग एक साल पहले मुझे ब्लोगिंग के कीड़े ने काट खाया था , मुझे लगा अपने मन की बात कहने का ये बढ़िया तरीका है , रोज जो भी मन मे आता था , जो सायद मै कभी भी किसी को नहीं बताता था वो कुछ सब्दो के सहारे अपने ब्लॉग पर डालता गया , मन मे एक उत्सुकता भी रहती थी की कितने लोग हमारे विचारो को पढते है , और अपने ब्लॉग के विजिटर्स की संख्या देख कर बड़ा सकून महसूश होता है , आज भी जैसे ही मैंने अपना ब्लॉग खोला तो सबसे पहले विजिटर्स को ही देखा और मन नाचने लगा जब वहा 806 देखा , मेरे जैसे मामूली आदमी के लिए ये एक सपना ही था

बुधवार, 6 जनवरी 2010

रूठी महबूबा मानाने का १५१ शेर - शेर नंबर -2

बड़ी मुदत से चाहा है तुझे
बड़े दुओं से चाहा है तुझे
तुझे भूलने की सोचु कैसे
किस्मत की लकीरों से चुराया है तुझे

लड़की पटाने के १५१ तरीके - तरीका नंबर 5

अगर आप की प्यार की नाव सही नहीं चल रही ,
या प्यार ही नहीं शुरु हुआ है तो उस की नय्या पर लगाने का मस्त तरीका
अगर आप की होने वाली महबूबा अपने दोस्तों के साथ किसी ग्रुप मे बैठी है ,
तो आप सिर्फ उसी को प्यार से एकटक निहारते रहिये ,
एसा करने से वो भी आप की तरफ आकर्षित होने लगेगी ,
अब आकर्षण को प्यार मे बदलना आप की क़ाबलियत पर निर्भर करता है

मंगलवार, 5 जनवरी 2010

अमित के प्यार के लिए



मोहब्बत मुझे थी उसी से..सनम.
यादो मे उसकी यह दिल तडपता रहा ..
मौत भी मेरी चाहत को रोक ना सकी..
कब्र मे भी यह दिल धड़कता रहा.

प्यार मे जुदाई

चाँद की रातों मे सारा जहाँ सोता है,-
किसी
की यादो मे कोई बदनसीब रोता है,
खुदा किसी को मोहब्बत पे फिदा ना करे,
अगर करे तो किसी को जुदा ना करे.

शिकायत

किस्मत से अपनी सबको शिकायत क्यो है,
जो नही मिल सकता उसी से मोहब्बत क्यो है,
कितने खड़े है रहो पे,
फिर भी दिल को उसी की चाहत क्यो है

दिल की दिल से बात



कोई आँखों आँखों से बात कर लेता है,
कोई आँखों आँखों में मुलाकात कर लेता है,
मुश्किल होता है जवाब देना,
जब कोई खामोश रहकर भी सवाल कर लेता है

हसी की खुराक

पत्नी (गुस्से मे ) - तुम्हारे दिमाग मे गोबर भरा है
पति (प्यार से ) -तो इतनी देर से चाट क्यों रही हो जानेमन

सोमवार, 4 जनवरी 2010

लड़की पटाने का तरीका नंबर -4


अगर लड़की को पटाना है तो
पहले उस के पास जाओ ,
उस का कुछ दिनों तक पीछा करो ,
ये बात लड़की के नोटिस मे आनी चाहए ,
वर्ना मेहनत बेकार भी हो सकती है ,
फिर अचानक ही सब बंद कर दो साथ मे लड़की को इग्नोर करना शुरु कर दो ,
लड़की कुछ परेशान होगी
और आप मे दिलचस्पी लेने लगेगी
अब यार कुछ तुम भी करोगे की नहीं

लड़की पटाने का तरीका नंबर -3


मेरे दोस्त की ५६ गर्लफ्रेंड है और वो एक ही तरीका अपनाता था ,
लडकियों से हमेशा उन के ही बारेमे बात करो
और लडकिया पट जाती थी

प्यार से,प्यार के लिए -2


बिना दर्द के
आँसू बहाए नही जाते,
बिना प्यार के
रिश्ते निभाए नही जाते,
ए दोस्त 1 बात याद रखना
बिना दिल दिए
दिल पाए भी नही जाते.

अगर आप की गर्ल फ्रेंड रूठ जाये -तो


दोस्तों हमारी जिन्दगी मे प्यार हमे कभी नहीं कभी होता ही है , और उस दिन मूड की तो घंटी बज जाती है जब हमारी दिल की बीमारी , मतलब हमारी गर्ल फ्रेंड हमसे रूठ जाये , जब नहीं दिन को चैन आये नहीं रातो को नींद आये , अरे तो परेशान क्यों होते हो आज से आप के लिए लड़की पटाने के साथ साथ रूठी महबूबा मनाये ,इन शायरियो के साथ रोज आप को एक तरीका और एक शेर ( जंगल वाला नहीं मेरे भाई )तो जरूर मिलेगा


मस्त नज़रों से देख लेना था
अगर तमन्ना थी आज़माने की,
हम तो बेहोश यो ही हो जाते
क्या ज़रूरत थी मुस्कुराने की

लड़की पटाने का तरीका नंबर _2


लडकियों से उसी टोपिक पर बात चीत करो जिस मे बात करने मे उसे मजा आये ,
इससे वो बहुत समय तक आप से बात कार सकती है ,
और आप की दोस्ती प्यार मे भी बदल सकती है