मंगलवार, 5 जनवरी 2010

अमित के प्यार के लिए



मोहब्बत मुझे थी उसी से..सनम.
यादो मे उसकी यह दिल तडपता रहा ..
मौत भी मेरी चाहत को रोक ना सकी..
कब्र मे भी यह दिल धड़कता रहा.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें