मंगलवार, 6 अप्रैल 2010

गीला कागज -३


जब तन्हाई मे आपकी याद आती है,
होंठो पे एक ही फरियाद आती है…
खुदा आपको हर खुशी दे,
क्योंकि आज भी हमारी हर खुशी आपके बाद आती है..

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें