शनिवार, 31 जुलाई 2010

लड़की पटाने का शेर -नंबर 15

क्या सोच कर तेरे हुस्न की तामीर की होगी,
क्या सोच कर खुदा ने तुझको बनाया होगा.
बड़ी प्यारी लगी होगी उसको भी तेरी सूरत,
जब जब नक़ाब तेरे रुख़ से हवा ने हटाया होगा.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें