रविवार, 20 नवंबर 2011

इन्तजार ?

रात सुबह का इंतजार नहीं करती ..
खुशबु मौसम का इंतजार नहीं करती..
जो भी ख़ुशी मिले उसको इंजॉय किया करो..
क्योकि जिन्दगी वक्त का इंतजार नहीं करती..

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें