मंगलवार, 20 दिसंबर 2011

दिल की बात -डर लगता है

चुप रहते है के कोई खफा ना हो जाए,

हमसे कोई रुसवा यूँ ही ना हो जाए,

बड़ी मुश्किल से कोई अपना लगने लगा है,

डरते है की मिलने से पहले ही कोई जुदा ना हो जाए.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें