सोमवार, 19 दिसंबर 2011

दिल की बात -देख लो

दर्द सीने मैं छुपा है, दिखाया नही जाएगा,

मेरे गम  का किस्सा सुनाया नही जाएगा,

जी भर के देख लेना इस चेहरे को,

बार – बार कफ़न हटाया नही जाएगा....;


                                                           

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें