सोमवार, 7 मई 2012

हिलेरी का दबाव, ईरान से दूरी बनाए भारत - क्यों बनाया ये दबाव

आज ये खबर जब NBT मे पढ़ी तब से समझ मे नहीं आ रहाकी भारत एक राष्ट्र है या एक गरीब की जोरू ,जो हर ताकतवर देश भारत को दादागिरी दिखने आ जाता है ओर हम लोग उसका स्वागत बड़े ही जोर शोर से करते है ,क्या हिलेरी क्लिंटन यहाँ सिर्फ हम लोगो को दबा कर अपनी हर बात को मनवा सकती है ,क्या अमेरिका हमारी सम्पर्भुता पर हर बार की तरह इस बार भी हावी हो जायेगा ,अगर अमेरिका का फायदा किसी देश का सम्बन्ध  हर देश से काटने पर सिद्ध होता है ,तो क्या हर देश को उस बात को मान लेना चाहिये ?
मै इस बात का विरोध करता हु की मेरे भारत देश को किसी भी दबाव मे आना चाहिये ,क्या आप भी मेरे साथ है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें