सोमवार, 27 मई 2013

ख़ामोशी - शायरी


1 टिप्पणी: